पूछताछ में एक देवघर के खनन अधिकारी की गरदन फंसी ? सृजन घोटाला

सीबीआई एसपी किरण एस ने जेल में बंद आरोपियों से की पूछताछ

दीपक नौरंगी
भागलपुर: भागलपुर का सृजन घोटाला बिहार का सबसे बड़ा घोटाला है क्योंकि लगातार घोटाले की रकम बढ़ती जा रही है।
बिहार राज्य और झारखंड में तो यह घोटाला चर्चित हो ही गया है और
देश के कई राज्यों में भागलपुर के सृजन घोटाले की
रकम भी लगी घोटाले के सामने आने के बाद जांच के दौरान दिल्ली, नोएडा देहरादून सहित
कई राज्यों में सृजन घोटाले के
कई करोड़ रुपए इन राज्यों में लगाए गए हैं।
सृजन घोटाले में कई डीएम से सीबीआई के एस पी किरण एस ने पूछताछ की है।

एक डीएम से भी हो चुकी है पूछताछ

एक पूर्व डीएम ने सीबीआई एसपी किरण एस को सृजन घोटाले के मामले कुछ महत्वपूर्ण तथ्य की जानकारी
देने की बात सामने आई है। सृजन घोटाले में कई जिला अधिकारी पर गाज गिरना तय मानी जा रही है क्योंकि
सृजन घोटाले में मात्र तीन डीएम से पूछताछ हो चुकी है। इस घोटाले में शामिल सभी जिला अधिकारी को पहले
सीबीआई की तरफ से नोटिस भेजने की बात सामने आई थी। कई जिला अधिकारियों को नोटिस तामिल कराया गया
उसके बाद कई जिला अधिकारी चुपचाप तरीके से भागलपुर आए और सीबीआई अधिकारियों को बीच अपना पक्ष रखा।
लेकिन सीबीआई एसपी किरण एस के आने के बाद बड़ी कार्रवाई के संकेत मिल रहा है।

पूछचाछ में सृजन का इतिहास भी जाना सीबीआइ एसपी ने

पूछताछ

सृजन संस्था से और कौन-कौन लोग जुड़े हुए हैं इसकी जानकारी सीबीआई के एसपी ले रहे हैं
सृजन घोटाले में डीएम के स्टेनो प्रेम कुमार ने सीबीआई के एसपी किरन एस को कुछ महत्वपूर्ण जानकारी दी है।
जिसमें सृजन घोटाले में एक नया मोड़ आ सकता है। सृजन घोटाले में शामिल झारखंड रांची के व्यापारी
मनोरमा देवी के संपर्क में कब आए और
उन्होंने लोन पर मोटी रकम लिया या फिर टेंडर के नाम पर चेक सृजन के संस्था से लिया है। व्यापारी पर
सीबीआई जांच मैं अब तेजी आ गई है।

सृजन घोटाले में अब कई अन्य अधिकारियों के भी नाम आये हैं। देवघर के रहने वाले एक खनन अधिकारी जो व्यवसाई के साथ
पार्टनर में काम कर रहे हैं। उक्त खनन अधिकारी पर भी अब गाज गिर सकती है देवघर के खनन अधिकारी के पास
काफी अवैध संपत्ति अर्जित है जिस की जांच भी अब सीबीआई कर सकती है।

स्टेनो प्रेम से हुई तीन घंटे  तक पूछताछ

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार सृजन संस्था से जुड़े दो व्यक्ति को सीबीआई एसपी किरण एस ने घंटों पूछताछ की है।
सबसे ज्यादा देर तक लगभग तीन घंटे डीएम के पूर्व स्टेनो प्रेम से की गयी पूछताछ की गयी।
घोटाले के शुरू होने से लेकर, राशि कहां कहां गयी और किन लोगों को ज्यादा लाभ मिला, इस तरह के सवाल किये गये।
सीबीआइ की लगभग पूरी टीम पहुंची पूछताछ के लिए कैंप जेल गयी। सीबीआइ की टीम ने जेल में बंद सभी आरोपितों से पूछताछ की।

जेल में बंद दो महिला से सीबीआई के एसपी किरण ने पूछताछ नहीं की है। कई आरोपियों के फोन डिटेल बारीकी से जांच हो रही है।
सीबीआई के एसपी किरण एस भागलपुर में आते के साथ पहले भागलपुर के एसपी मनोज कुमार से मिले फिर
भागलपुर के आई जी से मुलाकात करने के लिए गए।

भागलपुर पूर्व डीडीसी चंद्रशेखर सिंह के कार्यकाल में डीआरडीए और जिला परिषद से करोड़ों की अवैध निकासी हुई थी
वह अभी वर्तमान में दरभंगा के डीएम है।
सीबीआई एसपी ने उनसे भी कई घंटों तक पूछताछ की। सृजन से लोन लेने वाले कई व्यवसाई शहर से फरार हैं और कुछ व्यापारी शहर में ही मौजूद है।

Previous Article
Next Article

Leave a Reply




Spirituality

Weather




Most Viewed Posts




%d bloggers like this: